Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar 2022 | बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन स्टेटस व लिस्ट

Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar 2022 | बिहार में 16 हजार उद्यमियों को मिलेंगे 10-10 लाख रुपए | Bihar Mukhyamantri SC / ST Udyami Yojana Apply | बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | Mukhyamantri Udyami Yojana Application Status | Mukhyamantri Udyami Yojana

Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar 2022 : बिहार में स्वरोजगार की राह पर चल रहे 62 हजार से अधिक नए उद्यमियों के भाग्य का फैसला आज हो रहा है. आज प्रदेश के 16 हजार युवा उद्यमियों का चयन किया जाएगा, जिन्हें रोजगार के लिए 10 लाख रुपये दिए जाएंगे। इसमें से पांच लाख रुपये ऋण के रूप में दिए जाएंगे जबकि पांच लाख रुपये सरकार की ओर से अनुदान के रूप में दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत 5 लाख ऋण और 5 लाख अनुदान का इंतजार कर रहे आवेदकों के लिए यह अच्छी खबर है। कंप्यूटर के माध्यम से सफल उम्मीदवारों के यादृच्छिक चयन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसका सीधा प्रसारण बिहार उद्योग विभाग के फेसबुक पेज पर किया जा रहा है। यह प्रक्रिया सुबह 11 बजे शुरू हुई।

Subscribe YoutubeClick Here
Telegram JoinClick Here
Website HomepageClick Here
Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar 2022
Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar 2022

आठ हजार की जगह 16 हजार उद्यमियों को मिलेगा लाभ

उद्योग मंत्री के मुताबिक पहले से तय 8000 की जगह 16000 उद्यमियों को अब 5 लाख कर्ज और 5 लाख का अनुदान मिलेगा. मुख्यमंत्री उद्यमी योजनाओं के तहत लाभार्थियों का चयन पूरी पारदर्शिता के साथ किया जायेगा. उद्योग विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों, राज्य के सभी उद्योग संगठनों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में, पूरी चयन प्रक्रिया सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के फेसबुक और यूट्यूब चैनल और उद्यमी वेबसाइट पर लाइव देखी जा सकती है.

Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar 2022

योजना का नामबिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना
लांच किया गयाबिहार सरकार
लाभार्थीबिहार के अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के लोग
उद्देश्यउद्योग स्थापित करने के लिए बढ़ावा देना
प्रोत्साहन राशि10 लाख रुपए
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2022

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के प्रमुख बिंदु

केवल नए उद्यमियों को प्रदान किया जाएगा लाभ: बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का लाभ केवल नए उद्योगों को स्थापित करने वाले उद्यमियों को प्रदान किया जाएगा। सभी लाभार्थियों को बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नीति 2021 का लाभ भी प्रदान किया जाएगा। प्रशिक्षण के लिए आर्थिक सहायता: इस योजना के माध्यम से प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों का चयन करने के बाद ₹25000 प्रति इकाई प्रदान किए जाएंगे। अनुदान राशि: बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के माध्यम से प्रदान की जाने वाली राशि पर 50% या फिर अधिकतम ₹500000 का अनुदान प्रदान किया जाएगा। ऋण अदा करने की अवधि: इस योजना के अंतर्गत परियोजना लागत का 50% या फिर अधिकतम ₹500000 ब्याज मुक्त ऋण जमा करना होगा। यह राशि लाभार्थी को 7 वर्षों में 84 समान किस्तों के माध्यम से जमा करनी होगी।

आवेदन करने के लिए पात्रता

इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अति पिछड़ा वर्ग, महिला तथा युवा उद्यमी आवेदन कर सकते है। इन सभी वर्गो के उद्यमियों के लिए पात्रता कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक बिहार का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए करंट अकाउंट होना अनिवार्य है।
  • प्रोपराइटरशिप फर्म उद्यमी द्वारा अपने निजी पैन पर किया जा सकता है।
  • आवेदक की उम्र 18 से 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • केवल प्रोपराइटरशिप फर्म, पार्टनरशिप फर्म, एलएलपी अथवा प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ही इस योजना का लाभ उठा सकती है।
  • आवेदक की शक्षित योग्यता 10+2 या इंटरमीडिएट, आईटीआई, पॉलिटेक्निक, डिप्लोमा या समकक्ष उत्तीर्ण होनी चाहिए।
  • आवेदक अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अति पिछड़ा वर्ग, महिला या युवा श्रेणी से होना चाहिए।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अति पिछड़ा वर्ग, महिला तथा युवा उद्यमियों द्वारा आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज कुछ इस प्रकार है।

  • निवास प्रमाण पत्र
  • मैट्रिक प्रमाण पत्र
  • इंटरमीडिएट या समकक्ष योग्यता प्रमाण पत्र
  • हस्ताक्षर का नमूना
  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • जाती प्रमाण पत्र(पिता के नाम से)
  • करेंट अकाउंट निर्गत की तिथि साक्ष्य के साथ
  • एससी/एसटी के लिए दिनांक 17/05/2018 के बाद
  • पिछड़े वर्ग के लिए दिनांक 04/02/2020 के बाद
  • महिला के लिए दिनांक 13/05/2021 के बाद (जिन्होंने पहले अप्लाई किया उनके लिए दिनांक 18/05/2018 के बाद)
  • युवा के लिए दिनांक 13/05/2021 के बाद

विभिन्न योजनाओं के माध्यम से मिलेगा लाभ

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री उद्यमी योजना को चार अलग-अलग खंडों में बांटा गया है। इनमें मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री एससी-एसटी उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना शामिल हैं। महिला उद्यमी योजना के लाभार्थियों को बिना ब्याज के 5 लाख रुपये का ऋण पूरी तरह से दिया जाएगा। अन्य श्रेणियों को एक प्रतिशत ब्याज देना होगा। आपको बता दें कि तय कोटे से कई गुना ज्यादा आवेदन मिलने के बाद सरकार ने योजना का दायरा बढ़ाने का फैसला किया था. आपको बता दें कि इस योजना के तहत 62 हजार से ज्यादा लोगों ने आवेदन किया था।

यह भी पढ़े >> Free Laptop Yojana Bihar 2022

Mukhyamantri Udyami Yojana Bihar 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

  • बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा उद्योग स्थापित करने के लिए 10 लख रुपए के प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ केवल अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति वर्ग के नागरिक उठा सकते हैं।
  • Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana 2022 के माध्यम से बिहार सरकार उद्योग को प्रोत्साहन देने का प्रयास कर रही है।
  • इस योजना के माध्यम से बेरोजगारी की दरों में कमी आएगी।
  • अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के नागरिकों की आर्थिक स्थिति में भी इस योजना के माध्यम से सुधार आएगा।
  • इस योजना के लिए बिहार सरकार द्वारा 102 करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
  • 10 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि में से 5 लाख रुपए अनुदान के रूप में प्रदान किए जाएंगे तथा 5 लाख रुपए ब्याज मुक्त लोन के रूप में प्रदान किए जाएंगे।
  • इस योजना के माध्यम से उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा।
  • इस योजना के तहत बेरोजगारी दर में भी गिरावट आएगी।
  • अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के नागरिकों को बेहतर आजीविका प्राप्त होगी।
  • लोन की राशि 84 किस्तों में जमा करनी होगी।
  • लोन ब्याज मुक्त होगा।
  • प्रशिक्षण तथा परियोजना निगरानी के लिए सरकार द्वारा ₹25000 प्रदान किए जाएंगे।
  • लोन लेने के लिए किसी भी राष्ट्रीय कृत बैंक से लाभार्थी द्वारा स्वयं घोषणा करना अनिवार्य है।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

  1. सबसे पहले आप udyami.bihar.gov.in वेबसाइट लॉगिन करें।
  2. रजिस्ट्रेशन टैब पर क्लिक करें, यहां रजिस्ट्रेशन फॉर्म मिलेगा।
  3. रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पहला नाम, मध्य नाम और अंतिम नाम भरें, फिर ईमेल आईडी, लिंग, मोबाइल नंबर, आधार नंबर, आवेदन का प्रकार भरें (यहां आपको अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति, अति पिछड़ा वर्ग, महिला उद्यमी, युवा उद्यमी भरना है।
  4. अब आपके मोबाइल नंबर पर OTP प्राप्त होगा, इसे भरकर कन्फर्म करें।
  5. इसके बाद एक Log In फॉर्म खुलकर सामने आएगा. यहां आप अपना आधार नंबर और पासवर्ड डालकर लॉगिन करें. यह पासवर्ड आपके मोबाइल नंबर पर आया होगा।
  6. इसके बाद स्क्रीन पर डैशबोर्ड खुलेगा. यहां आपकी पंजीकरण संख्या लिखी होगी. इस फॉर्म में आपको कई कॉलम की जानकारी भरनी होगी. व्यक्तिगत जानकारी, शिक्षा, पारिवारिक विवरण, संगठन का विवरण, परियोजना का विवरण, वित्त विवरण, बैंक विवरण, दस्तावेज विवरण और सेटिंग्स में जाकर फाइनल सबमिट करना है।
  7. फॉर्म पूरा भरने के बाद इसका फाइनल कॉपी अपने पास Save कर लें, प्रिंटआउट भी निकाल लें।
  8. फॉर्म भरने के बाद सबमिट करते ही आपको एक फाइनल रसीद मिलेगी. प्रिंटआउट निकालकर रख लें।
  9. आवेदन करने के बाद आप ऑनलाइन लॉगिन करके चेक कर सकते हैं कि आपका आवेदन स्वीकार्य हुआ है या नहीं।

Leave a Comment