UP Sarkari Yojana 2022 | मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकारी योजना सूची, Yogi Yojana List

0

UP Sarkari Yojana | सरकारी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | सरकारी योजना रजिस्ट्रेशन up | लड़कियों के लिए सरकारी योजना 2022 up | sarkari yojana 2020 | up list | सरकारी योजना रजिस्ट्रेशन | up sarkari yojana online form | up sarkari yojana 2022 | sarkari yojana.com 2022

उत्तर प्रदेश सरकारी योजना सूची 2022 देश के अन्य राज्यों की तरह उत्तर प्रदेश राज्य में भी समय-समय पर कई सारी सरकारी योजनाएं लागू होती है। जिसकी जानकारी होना आप लोगों के लिए आवश्यक है अन्यथा आप इस योजना का लाभ लेने से वंचित रह जाएंगे। आपको आज इस आर्टिकल के माध्यम से उत्तर प्रदेश राज्य में लांच की गई सभी योजनाओं की जानकारी नीचे विस्तार पूर्वक दे रहा हूं। आप इस जानकारी को पढ़कर सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं।

UP Sarkari Yojana 2021
UP Sarkari Yojana 2022

Uttar Pradesh Sarkari Yojana 2022 – Details

आर्टिकलUP Sarkari Yojana 2022
साल2022
विभाग के अंतर्गतविभिन सरकारी विभाग द्वारा
राज्यउत्तर प्रदेश
लाभलोगो को सहायता प्रदान करना
लाभकारीउत्तर प्रदेश के नागरिक
आवेदन करने के तरीकेऑनलाइन अथवा ऑफलाइन
योजना का उदेश्यराज्यों के लोगों को अच्छी सुविधा प्रदान करना

Up Sarkari Yojana 2022 | उत्तर प्रदेश राज्य सरकारी योजना सूची 2022

  • उत्तर प्रदेश गोपालक योजना
  • यूपी फ्री टेबलेट/स्मार्ट फोन योजना
  • यूपी स्कॉलरशिप योजना
  • उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना
  • मुख्यमंत्री प्रवासी श्रमिक उद्यमिता विकास योजना
  • यूपी आसान किस्त योजना
  • बीसी सखी योजना
  • मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना
  • यूपी फ्री बोरिंग योजना
  • वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट योजना
  • यूपी मिशन शक्ति अभियान
  • राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना
  • यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना
  • UP Bhagya Laxmi Yojana Online Apply
  • उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना
  • Majdur Bhatta Yojana Registration
  • मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना
  • यूपी युवा स्वरोजगार योजना अप्लाई
  • कन्या सुमंगला योजना
  • इस योजना के अंतर्गत दी जाने वाली धनराशि
  • कन्या सुमंगला योजना आवेदन
  • उत्तर प्रदेश जनसुनवाई
  • जनसुनवाई पोर्टल ऑनलाइन आवेदन
  • उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता
  • यूपी राशन कार्ड
  • राशन कार्ड लिस्ट
  • यूपी सम्पत्ति एवं विवाह पंजीकरण
  • श्रमिक पंजीकरण यूपी
  • उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण आवेदन
  • यूपी पेंशन योजना
  • उत्तर प्रदेश पेंशन योजना के प्रकार
  • वृद्धावस्था पेंशन योजना
  • विधवा पेंशन योजना
  • विकलांग पेंशन योजना
  • यूपी भूलेख
  • गन्ना पर्ची कैलेंडर

UP Sarkari Yojana District Wise Details

No.Name of District
1Agra
2Aligarh
3PrayagRaj
4Ambedkar Nagar
5Amroha
6Auraiya
7Azamgarh
8Badaun
9Bahraich
10Ballia
11Balrampur
12Banda District
13Barabanki
14Bareilly
15Basti
16Bijnor
17Bulandshahr
18Chandauli(Varanasi Dehat)
19Chitrakoot
20Deoria
21Etah
22Etawah
23Faizabad
24Farrukhabad
25Fatehpur
26Firozabad
27Gautam Buddha Nagar
28Ghaziabad
29Ghazipur
30Gonda
31Gorakhpur
32Hamirpur
33Hapur District
34Hardoi
35Hathras
36Jaunpur District
37Jhansi
38Kannauj
39Kanpur Dehat
40Kanpur Nagar
41Kasganj
42Kaushambi
43Kushinagar
44Lakhimpur Kheri
45Lalitpur
46Lucknow
47Maharajganj
48Mahoba
49Mainpuri
50Mathura
51Mau
52Meerut
53Mirzapur
54Moradabad
55Muzaffarnagar
56Pilibhit
57Pratapgarh
58Rae Bareli
59Rampur
60Saharanpur
61Sant Kabir Nagar
62Sant Ravidas Nagar
63Sambhal
64Shahjahanpur
65Shamli
66Shravasti
67Siddharthnagar
68Sitapur
69Sonbhadra
70Sultanpur
71Unnao
72Varanasi (Kashi)
73Allahabad
74Amethi
75Bagpat

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकारी योजना सूची 2022

ऊपर सूची में दिए गए सभी UP Sarkari Yojana को नीचे विस्तार पूर्वक पढ़ सकते हैं। इन योजनाओं को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा लागू किया गया है। जो कि उत्तर प्रदेश राज्य के निवासियों के लिए है इन सभी योजनाओं का लाभ सिर्फ उत्तर प्रदेश में निवास करने वाले लोगों को दिया जाएगा आप नीचे दिए गए सभी योजनाओं को बारी-बारी कर पढ़ सकते हैं और UP Sarkari Yojana 2022 के बारे में जान सकते हैं।

यूपी मिशन शक्ति अभियान

उत्तर प्रदेश की महिलाओं और बेटियों को आत्मनिर्भर और सुरक्षित बनाने के उद्देश्य से यूपी मिशन शक्ति अभियान चलाया गया है। इस अभियान के माध्यम से राज्य की महिलाओं को जागरूक किया जाता है। ताकि उन्हें अपने अधिकारों से जुड़ी जानकारी मिल सके. इसके अलावा महिलाओं के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं। यह योजना राज्य के सभी 75 जिलों में संचालित की जा रही है। इस अभियान के माध्यम से राज्य की महिलाएं आत्मनिर्भर बन सकेंगी। मिशन शक्ति अभियान 31 अगस्त 2022 को शुरू किया गया था। अब तक इस योजना के दो चरणों का आयोजन किया जा चुका है। फिलहाल इस योजना के तीसरे चरण का संचालन किया जा रहा है।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना

राष्ट्रीय परिवार योजना का लाभ राज्य के ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के गरीब परिवारों को प्रदान किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से यदि गरीब परिवार के एकमात्र कमाने वाले सदस्य की मृत्यु हो जाती है, तो ऐसी स्थिति में परिवार के सदस्य को ₹30000 की राशि प्रदान की जाएगी। ताकि परिवार को किसी पर निर्भर न रहना पड़े। इस योजना का लाभ तभी दिया जा सकता है जब लाभार्थी का बैंक खाता आधार से लिंक हो। इस योजना के तहत लाभ की राशि सीधे लाभार्थी के खाते में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वितरित की जाएगी। इस योजना के माध्यम से गरीब परिवारों को आर्थिक मदद भी मिलेगी और उनके जीवन स्तर में भी सुधार होगा।

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना

इस योजना की शुरुआत यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने प्रदेश की लड़कियों को लाभ पहुंचाने के लिए की है। इस योजना के तहत, राज्य के आर्थिक रूप से गरीब परिवारों की बेटियों के जन्म पर, रुपये की वित्तीय सहायता। राज्य सरकार द्वारा 50000 और रुपये प्रदान किए जाएंगे। बेटी की मां को भी 5100 रुपए दिए जाएंगे। इस यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना के तहत, जब लड़की छठी कक्षा में आती है, तो माता-पिता को 3,000 रुपये, 8 वीं कक्षा में 5000 रुपये, कक्षा 10 में 7,000 रुपये और कक्षा 12 वीं में 8,000 रुपये दिए जाएंगे। इस योजना के तहत लड़की के 21 वर्ष की आयु तक पहुंचने तक उसके माता-पिता को कुल 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

UP Bhagya Laxmi Yojana Online Apply

इस योजना के तहत आवेदक के परिवार की वार्षिक आय एक लाख रुपये से कम होनी चाहिए। 2 लाख। उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना के तहत 18 साल से कम उम्र की लड़की की शादी नहीं होनी चाहिए। राज्य के इच्छुक लाभार्थी जो इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, वे महिला एवं बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर यूपी भाग्य लक्ष्मी योजना आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड कर सकते हैं। इसके बाद आप आवेदन पत्र भरकर अपने नजदीकी आंगनबाडी केंद्र या अपने नजदीकी महिला कल्याण विभाग के कार्यालय में जमा कर सकते हैं।

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना

इस योजना के राज्य के पालन-पोषण के लिए आर्थिक मदद। इस राज्य में 15 लाख दिहाड़ी के काम और निर्माण वाले क्षेत्र (विलय, खोमचे, फेरी वाले, निर्माण कार्य वाले) के 20.37 लाख को प्रभावित होंगे। प्रति व्यक्ति 1,000 अर्थव्यवस्था की घोषणा की। जैसे की आप सभी को ठुकराए हुए हैं। इस मजदुर भट्टा योजना के लिए इस तरह के नगर विकास के 16 लाख स्वास्थ्य कर्मचारी, 58000 ग्राम प्रधान मंत्री 20 -20 कामगार के लिए।

Majdur Bhatta Yojana Registration

इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा मजदूरों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में हस्तांतरित की जाएगी। इस योजना का लाभ श्रम विभाग, शहरी विकास एवं ग्राम सभा में पंजीकृत श्रमिकों को मिलेगा। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार राज्य के बीपीएल परिवारों को 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल मुफ्त देगी. मजदुर भट्टा योजना का लाभ लेने के लिए आपको श्रम विभाग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना

यह योजना राज्य के बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए शुरू की गई है। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा राज्य के बेरोजगार युवाओं को अपना रोजगार शुरू करने के लिए 25 लाख रुपये तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत उत्तर प्रदेश के पात्र बेरोजगार युवाओं को कम ब्याज दर पर ऋण सुविधा प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत उद्योग क्षेत्र के लिए 25 लाख रुपये और सेवा क्षेत्र के लिए 10 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। सहायता प्रदान की जाएगी। इसके साथ ही परियोजना लागत की कुल राशि का 25 प्रतिशत मार्जिन मनी सब्सिडी भी सरकार द्वारा दी जाएगी। उद्योग क्षेत्र के लिए अधिकतम 6.25 लाख रुपये और सेवा क्षेत्र के लिए 2.50 लाख रुपये की मार्जिन राशि प्रदान की जाएगी।

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना

उत्तर प्रदेश गोपालक योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई है, इस योजना के माध्यम से गोपालक को ₹200000 तक का ऋण प्रदान किया जाएगा। यह कर्ज दो किस्तों में दिया जाएगा। जिसके माध्यम से लाभार्थी 10 से 12 गायों का पालन पोषण कर सकता है। लाभार्थी गाय या भैंस दोनों को पाल सकता है। इस योजना का लाभ लेने के लिए पशु का दुधारू होना अनिवार्य है। इसके अलावा लाभार्थी इस योजना के माध्यम से अपना डेयरी फॉर्म भी खोल सकता है। यह योजना बेरोजगारी दर को कम करने में भी कारगर साबित होगी।

यूपी फ्री टेबलेट/स्मार्ट फोन योजना

इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के युवाओं को एक करोड़ मुफ्त स्मार्टफोन और टैबलेट प्रदान किए जाएंगे। इस योजना के प्रस्ताव को सरकार ने मंजूरी दे दी है। सभी पोस्ट ग्रेजुएशन, बी.टेक, ग्रेजुएशन, पॉलिटेक्निक, मेडिकल, पैरामेडिकल और स्किल डेवलपमेंट मिशन का प्रशिक्षण लेने वाले उम्मीदवारों को स्मार्ट फोन / टैबलेट प्रदान किए जाएंगे। इस योजना का लाभ छात्रों के अलावा अन्य नागरिकों को भी मिलेगा। वे सभी नागरिक जो सेवा क्षेत्र से जुड़े हैं, वे भी इस योजना का लाभ लेने के पात्र हैं। इस योजना का लाभ लेने के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। यह योजना जिलाधिकारी की अध्यक्षता में 6 सदस्यीय समिति द्वारा क्रियान्वित की जायेगी।

यूपी स्कॉलरशिप योजना

यूपी छात्रवृत्ति योजना के तहत कक्षा 9, 10, 11 और 12 में पढ़ने वाले बच्चों को छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। अब राज्य के वे सभी बच्चे जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं, उन्हें शिक्षा प्राप्त करने के लिए आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा। क्योंकि उनकी पढ़ाई का खर्च सरकार उठाएगी। वे सभी बच्चे जिनके परिवार की वार्षिक आय ₹200000 या इससे अधिक है वे इस योजना का लाभ पाने के पात्र हैं। इस योजना का लाभ पाने के लिए आवेदक को अधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन करना होगा। यदि आवेदक को पहले से ही केंद्र या राज्य सरकार की किसी अन्य छात्रवृत्ति योजना का लाभ मिल रहा है, तो वह योजना का लाभ पाने के लिए पात्र नहीं है।

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना

यह योजना उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ द्वारा राज्य के गरीब नागरिकों के लिए शुरू की गई है। इस योजना के तहत बालिका की शादी पर ₹51000 की राशि प्रदान की जाती है। इस राशि से बालिकाओं की शादी पर होने वाले खर्च को भी कम करने में मदद मिलती है। वे सभी नागरिक जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करते हैं, उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना का लाभ पाने के पात्र हैं। इस योजना का लाभ लेने के लिए विवाह पंजीकरण अनिवार्य है। अब राज्य के नागरिकों को बालिकाओं की शादी के लिए चिंता करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि उत्तर प्रदेश सरकार इस योजना के माध्यम से लड़कियों की शादी पर वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग प्रदान करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से राज्य के छात्रों को मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाती है। यह कोचिंग यूपीएससी, यूपीपीएससी, जेईई, एनईईटी आदि जैसे पेपर की तैयारी के लिए प्रदान की जाती है। अब राज्य के नागरिकों को इन सभी परीक्षाओं की तैयारी के लिए किसी अन्य राज्य में जाने की आवश्यकता नहीं होगी। क्योंकि इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रशिक्षण संसाधन उपलब्ध कराए जाएंगे। इस योजना के क्रियान्वयन के लिए सरकार की ओर से एक पोर्टल भी शुरू किया गया है। राज्य के छात्र इस योजना को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से प्राप्त कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री प्रवासी श्रमिक उद्यमिता विकास योजना

राज्य के श्रमिकों को रोजगार पाने के लिए दूसरे राज्यों में जाना पड़ता है। ऐसे सभी श्रमिकों को अपना जीवन यापन करने में अनेक कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इस समस्या से निपटने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री प्रवासी श्रमिक उद्यमी विकास योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से प्रवासी श्रमिक नागरिकों को उद्योगों से जोड़ने का प्रयास किया जाएगा। ताकि नागरिकों को रोजगार के संसाधन राज्य में ही उपलब्ध हो सकें और राज्य के नागरिकों को रोजगार पाने के लिए किसी दूसरे राज्य में जाने की जरूरत न पड़े.

यूपी आसान किस्त योजना

यूपी आसान किस्त योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने की थी। इस योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के सभी नागरिक जो आर्थिक कमजोरी के कारण बिजली बिल का भुगतान करने में असमर्थ हैं, उन्हें किश्तों में बिजली बिल का भुगतान करने की सुविधा प्रदान की जाएगी। शहरी उपभोक्ता अपने बिल का भुगतान 12 किस्तों में और ग्रामीण उपभोक्ता 24 किश्तों के माध्यम से अपने बिल का भुगतान कर सकते हैं। अब राज्य के सभी नागरिक जो आर्थिक तंगी के कारण बिजली बिल का भुगतान करने में असमर्थ थे, वे बिजली बिल का भुगतान कर सकेंगे। मासिक किस्त की न्यूनतम राशि 1500 रुपये होगी। उपभोक्ता को प्रत्येक मासिक किश्त के साथ वर्तमान बिल का भुगतान करना अनिवार्य होगा।

बीसी सखी योजना

बीसी सखी योजना उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ द्वारा शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं के माध्यम से बैंकिंग सेवाएं प्रदान की जाएंगी। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण नागरिकों को बैंकिंग सुविधाएं मिलेंगी और महिलाओं को रोजगार मिलेगा। राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिक घर बैठे बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा सकेंगे। ये बैंकिंग सेवाएं डिजिटल डिवाइस के जरिए मुहैया कराई जाएंगी। महिलाओं को इस डिजिटल डिवाइस को खरीदने के लिए ₹50000 की राशि प्रदान की जाएगी। इसके अलावा महिलाओं को 6 माह के वेतन के रूप में ₹4000 प्रतिमाह की राशि भी प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से उन सभी बच्चों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी जिनके माता-पिता की कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु हो गई है। यह योजना उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा 30 मई 2022 को शुरू की गई थी। इस योजना के माध्यम से बच्चों को न केवल वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी, बल्कि उनकी शिक्षा से लेकर शादी तक का खर्च उत्तर प्रदेश द्वारा वहन किया जाएगा। प्रदेश सरकार। मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से बच्चों या उनके माता-पिता को ₹ 4000 प्रति माह की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके अलावा यदि बच्चे की आयु 10 वर्ष से कम है एवं उसका कोई अभिभावक नहीं है तो उनको राजकीय बाल गृह में आवासीय सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी। लड़कियों को अलग से आवासीय सुविधा प्रदान की जाएगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से लड़कियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी।

यूपी फ्री बोरिंग योजना

राज्य के लघु और सीमांत क्षेत्र में उपलब्ध कराने की सुविधा प्रदान करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने यू.पी. स्कीम के मध्य से एंव स्ट्रक्चर्ड एसटी और लघु सीमांत रेंजो कोपोन के लिए बोरिंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। रिपोर्ट्स की जांच करने के लिए. इसके लिए बैंक की ओर से भी की जा सकती है। सामान्य श्रेणी के लघु श्रेणी श्रेणी के उत्पाद योजना के योग्य गुणक विशेषज्ञ होंगें। इस योजना में वृद्धि हुई है। इस योजना के माध्यम से जीवन स्तर में सुधार भी होता है।

वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट योजना

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा एक जिला एक उत्पाद योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से राज्य के 75 जिलों के विशेष उत्पादों का उत्पादन और प्रचार किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से आने वाले 5 वर्षों में 25 लाख लोगों को रोजगार प्रदान किया जाएगा। यह योजना उत्तर प्रदेश के लघु, मध्यम और पारंपरिक उद्योगों के विकास में भी कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से रोजगार सृजित किया जा सकता है। यह योजना राज्य के नागरिकों की आर्थिक स्थिति को सुधारने में भी कारगर साबित होगी। वन डिस्टिंक्ट वन प्रोडक्ट के माध्यम से राज्य के नागरिकों को उनके जिले के विशिष्ट उत्पादों के उत्पादन के लिए कच्चा माल, डिजाइन, प्रशिक्षण, तकनीक और बाजार उपलब्ध कराया जाएगा।

यूपी युवा स्वरोजगार योजना अप्लाई

राज्य के युवा जो शिक्षित हैं लेकिन उनके पास कोई रोजगार नहीं है उन्हें इस योजना के तहत लाभ प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत राज्य के अनुसूचित जाति/जनजाति के 21% युवाओं को लाभ दिया जाएगा। इसके तहत आवेदक की उम्र 18 साल से 40 साल के बीच होनी चाहिए। इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आप उत्तर प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इस योजना के माध्यम से बेरोजगारी की समस्या को कम करने के लिए।

कन्या सुमंगला योजना

यह योजना राज्य की लड़कियों के भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए शुरू की गई है। इस योजना के तहत बालिका के जन्म से लेकर उसकी पढ़ाई तक का पूरा खर्चा सरकार द्वारा वित्तीय सहायता के रूप में प्रदान किया जाएगा। कन्या सुमंगला योजना के तहत बालिकाओं को कुल 15000 रुपये वित्तीय सहायता के रूप में तथा बालिकाओं को दी जाने वाली कुल राशि 6 समान किश्तों में दी जाएगी। इस कन्या सुमंगला योजना 2020 के तहत लड़की के परिवार की वार्षिक आय अधिकतम 3 लाख या उससे कम होनी चाहिए।

कन्या सुमंगला योजना आवेदन

एमकेएसवाई के तहत, परिवार की केवल 2 लड़कियों को ही पात्र माना जाएगा। यदि उत्तर प्रदेश के किसी परिवार ने किसी अनाथ कन्या को गोद लिया है तो अधिकतम 2 बालिकाएं इस योजना की लाभार्थी होंगी, जिसमें परिवार के जैविक बच्चे और विभिन्न रूपों में गोद लिए गए बच्चे शामिल हैं। इस कन्या सुमंगला योजना के तहत लाभार्थी के परिवार की वार्षिक आय अधिकतम तीन लाख होनी चाहिए। राज्य के इच्छुक लाभार्थी जो इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, वे कन्या सुमंगला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। लाभ उठा सकते हैं।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई

जनसुनवाई पोर्टल उत्तर प्रदेश की कई प्रकार की सुविधाएं प्रदान करने के लिए राज्य सरकार द्वारा शुरू किया गया है। यदि राज्य के लोगों को किसी भी प्रकार की कोई शिकायत है तो वे इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं। आपके द्वारा इस उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर दर्ज कराई गई शिकायत का निराकरण संबंधित विभाग द्वारा किया जाएगा। राज्य के जिन लोगों को किसी भी सरकारी विभाग से संबंधित कोई काम नहीं मिल रहा है और काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तो वे अपनी शिकायत यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर दर्ज करा सकते हैं. राज्य के मजदूर जो लॉक डाउन के कारण दूसरे राज्यों में फंसे हुए हैं और जो अन्य राज्यों से राज्य के बाहर जाना चाहते हैं। तो वे जनसुनवाई पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैं।

यूपी पेंशन योजना

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के वृद्धों, विकलांगों और विधवा महिलाओं को पेंशन प्रदान करने के लिए यूपी पेंशन योजना शुरू की है। यूपी पेंशन योजना के तहत उत्तर प्रदेश सरकार राज्य की बुजुर्ग, विकलांग और विधवा महिलाओं को पेंशन राशि प्रदान करके उन्हें वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है ताकि वे किसी पर निर्भर न हों और अपनी वित्तीय जरूरतों को पूरा कर सकें। इस योजना का लाभ सभी को लेना है। इस योजना के तहत इच्छुक लाभार्थियों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। राज्य के इच्छुक लाभार्थी जो इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं, वे योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इस योजना के तहत तीन प्रकार की पेंशन योजनाएं हैं। जिसकी पूरी जानकारी हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे।

वृद्धावस्था पेंशन योजना

इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के बुजुर्ग लोगों को सरकार द्वारा 800 रुपये प्रति माह पेंशन राशि प्रदान की जाएगी। वृद्धावस्था पेंशन योजना के तहत पहले वृद्धों को 750 रुपये पेंशन दी जाती थी, जिसे सरकार ने बढ़ाकर 800 रुपये कर दिया है। इस योजना के तहत पेंशन राशि प्राप्त करके सभी वृद्ध नागरिक अपने बुढ़ापे में अच्छी तरह से जी सकते हैं।

विधवा पेंशन योजना

विधवा पेंशन योजना विधवा महिलाओं के लिए है। इस योजना के तहत, यूपी सरकार द्वारा राज्य की विधवा महिलाओं को वित्तीय सहायता के रूप में 500 रुपये प्रति माह की पेंशन राशि प्रदान की जाएगी। जिससे महिलाएं आसानी से अपना पेट भर सकें और उन्हें किसी पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। इस योजना के लागू होने से समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का विकास होगा। इस योजना के तहत राज्य की वही विधवा महिलाएं पात्र मानी जाएंगी जिनकी स्थिति आर्थिक रूप से कमजोर है, इस योजना के तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली राशि सीधे लाभार्थी होगी। विधवा महिलाओं के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।

विकलांग पेंशन योजना

इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा राज्य के विकलांग नागरिकों को प्रति माह 500 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी। इस पैसे से विकलांग लोग अपना जीवन अच्छे से जी सकेंगे। इस निःशक्तता पेंशन योजना के तहत 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी विकलांग व्यक्तियों और जिनका नाम अखिल भारतीय अंतिम बीपीएल सूची में आता है, उन्हें 500 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे। इस यूपी विकलांग पेंशन के तहत आवेदन करने वाला व्यक्ति कम से कम 40% विकलांग होना चाहिए।

यूपी भूलेख

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के निवासियों के लिए UPI भूलेख की सभी जानकारी ऑनलाइन कर दी है। अपनी भूमि से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी के लिए राज्य से कृषि के कागजात, खेत का नक्शा, भूमि ब्लॉग, खाता आदि की ऑनलाइन जांच की जा सकती है। यूपीलेख का मतलब है जमीन से लेकर टाइप तक की जानकारी। इस राज्य के भूलेख की सुविधा से पहले राज्य के लोगों को अपनी जमीन बंद करनी पड़ती थी, परवरखाना गण और . आप भारत के इंटरनेट के माध्यम से उत्तर प्रदेश के पोर्टल पर इंटरनेट पर ऑनलाइन देख सकते हैं।

गन्ना पर्ची कैलेंडर

गन्ना पर्ची कैलेंडर देखने के लिए राज्य सरकार गन्ना की खेती करने वाले किसानों को ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा उपलब्ध करा रही है. इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से उत्तर प्रदेश के सभी किसान अपने गन्ने की आपूर्ति से संबंधित सभी जानकारी घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। अब प्रदेश के किसानों को कहीं जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस सुविधा से किसानों का पैसा भी खर्च नहीं होगा और समय की भी बचत होगी। उत्तर प्रदेश में गन्ना की खेती करने वाले किसान अपनी चीनी मिल, सर्वेक्षण, पर्ची जारी करने, तौल भुगतान और विकास से संबंधित सभी जानकारी ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। है। राज्य के इच्छुक लाभार्थी जो गन्ना पर्ची कैलेंडर देखने के लिए इस सुविधा का लाभ लेना चाहते हैं, तो वे आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं।

जनसुनवाई पोर्टल ऑनलाइन आवेदन

आपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है, इसी उद्देश्य को पूरा करने के लिए यूपी सरकार ने जनसुनवाई पोर्टल शुरू किया है, राज्य के लोग इस जनसुनवाई पोर्टल के माध्यम से घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से अपनी शिकायतें ऑनलाइन दर्ज करा सकते हैं। संबंधित विभाग आपकी समस्या का कम से कम समय में निवारण करेगा और जब तक आपकी शिकायत का समाधान नहीं हो जाता, आप ऑनलाइन माध्यम से यूपी जनसुनवाई शिकायत स्थिति देख सकते हैं।

उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता

इस योजना के लागू होने के बाद ही आप इस योजना से खुश होंगे। इस योजना के तहत राज्य के इण्टरमीडिएट (12वीं) से स्नातक (स्नातक) के रूप में युवा अवस्था को प्रभावी रूप से 1000 से लागू किया गया। रोजगार की स्थिति में रोजगार के लिए रोजगार की सुविधा के लिए रोजगार की सुविधा के लिए रोजगार के अवसर पैदा करने वाले रोजगारों राज्य के बेरोजगार युवाओ को उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता के तहत सरकार द्वारा बेरोजगारी भत्ता प्राप्त करना चाहते है तो उन्हें उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता की अधिकारिक वेबसाइड पर स्वयं को पंजीकरण कर सकते है।

यूपी राशन कार्ड

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राशन कार्ड बनाने के लिए आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन कर दी गई है। राज्य के इच्छुक लाभार्थी जो नया राशन कार्ड बनाना चाहते हैं या पुराने राशन कार्ड का नवीनीकरण कराना चाहते हैं। तो वे खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। राज्य के लोग हर महीने यूपी राशन कार्ड के माध्यम से हर महीने सरकार द्वारा भेजा गया गेहूं, चावल, चीनी आदि राशन सब्सिडी दरों पर प्राप्त कर सकते हैं। सभी परिवारों को एपीएल, बीपीएल, एएवाई (अत्योदय) सूची में वर्गीकृत किया गया है, इन श्रेणियों के परिवारों की आर्थिक स्थिति और आय के अनुसार एपीएल, बीपीएल, राशन कार्ड बनाए जाते हैं।

राशन कार्ड लिस्ट

एपीएल/बीपीएल राशन कार्ड राज्य सरकार द्वारा खाद्य एवं रसद विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार के तहत लाभार्थी की आर्थिक स्थिति के अनुसार बनाए जाते हैं और उन्हें राशन कार्ड के तहत सूचीबद्ध सभी खाद्य पदार्थ सब्सिडी दर पर प्रदान किए जाते हैं। राज्य के उम्मीदवार जो इस राशन कार्ड सूची में अपना नाम खोजना चाहते हैं, वे ऑनलाइन पोर्टल पर जा सकते हैं और सूची में अपना नाम देख सकते हैं। परिवार की वार्षिक आय के अनुसार राज्य सरकार ने लोगों को एपीएल, बीपीएल और अंत्योदय सूची में वर्गीकृत किया है। बीपीएल कार्ड धारकों को सरकारी नौकरियों में छूट दी जाती है और परिवार के बच्चों को स्कूलों में छात्रवृत्ति मिलती है।

यूपी सम्पत्ति एवं विवाह पंजीकरण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ द्वारा यूपी संपत्ति और विवाह पंजीकरण की प्रक्रिया ऑनलाइन जारी की गई है। राज्य के इच्छुक लाभार्थी जो अपनी संपत्ति और विवाह का पंजीकरण कराना चाहते हैं, वे इसे स्टाम्प एवं पंजीकरण विभाग (आईजीआरएसयूपी) की आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन कर सकते हैं। यह स्टाम्प एवं पंजीकरण विभाग उत्तर प्रदेश के लोगों को विभिन्न प्रकार की ऑनलाइन सेवाएं प्रदान करता है जैसे अचल संपत्ति पंजीकरण, विवाह पंजीकरण, मुफ्त प्रमाण पत्र 12 वर्ष और डीड अटेस्टेड कॉपी। अब लोगों को मैरिज सर्टिफिकेट लेने के लिए किसी भी ऑफिस जाना पड़ता है। आवश्यकता नहीं होगी।

श्रमिक पंजीकरण यूपी

इस योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने राज्य के श्रमिकों को लाभ पहुंचाने के लिए की है। राज्य सरकार राज्य के सभी श्रमिक वर्ग को पंजीकरण की सुविधा प्रदान कर रही है, इस योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों को सभी सरकारी योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाएगा। इस उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण के माध्यम से राज्य सरकार श्रमिक वर्ग के लोगों को आसानी से आर्थिक सहायता प्रदान कर सकेगी। उत्तर प्रदेश के मजदूरों के लिए शुरू की गई सभी सरकारी योजनाओं के तहत प्रदान की जाने वाली वित्तीय सहायता सीधे श्रमिकों के बैंक खातों में आसानी से उपलब्ध होगी।

उत्तर प्रदेश श्रमिक पंजीकरण आवेदन

राज्य के जो मजदूर किसी भी निर्माण क्षेत्र में काम कर रहे हैं या दिहाड़ी मजदूर हैं, वे श्रम विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं और वर्तमान और भविष्य में मजदूरों के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं। इन सभी योजनाओं का लाभ लेने के लिए श्रमिकों को सबसे पहले अपना पंजीकरण कराना होगा और अपना श्रमिक कार्ड बनवाना होगा। श्रमिक पंजीकरण 2020 करने के लिए आवेदक की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

योगी योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी UP Sarkari Yojana का लाभ उठाना चाहते है तो उन्हें योजनाओ से सम्बंधित आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा। इस होम पेज पर आपको आवेदन करे के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा। आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को भरना होगा। और फिर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। जिसके बाद आप UP Sarkari Yojana 2022 का लाभ ले सकते है।

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट सेक्शन में लिखकर जरूर बताएं। ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले। अधिक जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहें।

अगर आप इस पोस्ट के बारे में हमसे कुछ पूछना चाहते हैं, तो आप हमें कमेंट सेक्शन के माध्यम से पूछ सकते हैं, हम आपका जवाब जल्द ही देंगे। अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

Join Youtube ChannelClick Here
Join Youtube ChannelClick Here
Website Home PageClick Here
Previous articleBihar Board 10th / 12th Migration Certificate Download 2022 | बिहार बोर्ड माइग्रेशन सर्टिफिकेट डाउनलोड ऑनलाइन
Next articleUP Board Result 2022 Download 12th Marksheet Certificate At upmsp.edu.in
Our goal is to help the students of each state to get the latest news related to education and jobs. We check all the news posted on this website from various sources. Every parameter is checked before we post but we are not sure about the potential do not claim the genuineness of the data

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here